कंधों की कसरत बारबेल शोल्‍डर प्रेस कैसे करें

1649
0
SHARE

लोग कमीज को हैंगर पर टांगते हैं, क्यों? क्योंकि उसके पास कंधे नहीं होते। मर्दों के पास कंधे होते हैं इसलिए वो कमीज टांगते नहीं बल्कि पहनते हैं। कंधों (शोल्डर) को बड़ा, भरा हुआ और मजबूत बनाने की सबसे कारगर कसरत है बारबेल शोल्डर प्रेस यानी रॉड के साथ कंधों की कसरत। ये कसरत दम लेती है, पसीना निकलवाती है, मगर ताकत देती है। पावर बढ़ाने की टॉप 5 कसरतों में यह शामिल है। बारबेल शोल्‍डर प्रेस दो तरह से होती है बैक प्रेस और फ्रंट प्रेस।

बारबेल शोल्डर प्रेस कैसे करें

फ्रंट प्रेस :-

1. इस कसरत को आप बैठकर या खड़े होकर कर सकते हैं। वैसे अगर आपकी कमर में दर्द नहीं है तो मैं खड़े होकर करने की सलाह दूंगा।खड़े हों तो पैरों के बीच में ठीक-ठाक गैप रखें, सावधान होकर खड़े होने की कोई जरूरत नहीं।

2. बारबेल में मनचाहा वेट लगाएं और उसे सामने रख लें। अपने कंधों की चौड़ाई से दो-दो इंच एक्स्ट्रा रखते हुए बारबेल को पकड़ें,मन करे तो थोड़ा कम या ज्यादा भी कर सकते हैं।

3. बारबेल को हथेली में नहीं, पूरी मुट्ठी में पकड़ें। जो लोग रॉड को अंगूठे की ग्रिप बनाए बिना पकड़ते हैं वो अपने ऊपर वेट गिराने का रिस्क लेकर कसरत करते हैं, मगर ये कोई सख्त नियम नहीं है। हमने जो तस्‍वीर लगाई है उसमें शख्‍स ने रॉड को हथेली में पकड़ा हुआ है मगर यह ठीक नहीं है। हैवी वेट लगाते वक्‍त तो ये कतई ठीक नहीं है।

4. शुरू हो जाएं….। बारबेल को ऊपर ले जाते वक्त सांस छोड़नी है और नीचे आते वक्त सांस लेनी है। ऊपर जाने में जितना वक्त लगाएं उसका दोगुना वक्त वेट को नीचे लाने में लगाएं। यानी जब बारबेल नीचे आ रही हो तो उसे थामते हुए लाएं, गिराते हुए नहीं। रॉड आपकी अपर चेस्ट को छूने को हो या छू जाए तो तुरंत ऊपर ले जाएं। जब रॉड ऊपर जाएगी तो हाथों को पूरी तरह से खोलना जरूरी नहीं है। हाथों को 80 से 85 फीसदी तक ही खोलें और वापस आ जाएं। जब हैवी वेट लगाएंगे तो ये जरूरी भी है। पूरी तरह से हाथ खोलने से एक तो कोहनियों पर बुरा असर पड़ता है दूसरा वेट डगमगाने लगता है।

5. बस इस कसरत में और कोई विज्ञान नहीं है।

6. चेस्ट को प्रॉपर शेप देने के लिए ये कसरत जरूरी है वरना पसलियों के नीचे वाली जगह खाली खाली रहेगी। वो जगह चेस्ट की नहीं बल्कि कंधों की कसरत से बनती है। अक्‍सर लोग ये सवाल करते हैं कि पसलियों के ठीक नीचेे गड्ढा है उसे भरने के लिए चेस्‍ट की कौन सी कसरत चाहिए। हम उन्‍हें चेस्‍ट की बजाये कंधों की कसरत पर ध्‍यान देने को कहते हैं क्‍योंकि आपके कंधों की गोलाई के ठीक नीचे वाला मसल्‍स भी शोल्‍डर का हिस्‍सा है वो चेस्‍ट की कसरतों से नहीं भरेगा।

नुस्खा

ज्यादा वेट लगाएं तो पैर थोड़े से और खोल लें और वेट नीचे आते वक्त हल्का सा घुटना मोड़ें फिर पैरों से ताकत लेते हुए तेजी से वेट को ऊपर ले जाएं। हैवी वेट लगाते वक्त बेल्ट लगा लें, ठीक रहता है। पतली रॉड का इस्तेमाल न करें, मोटी रॉड पर ग्रिप अच्छी बनती है। हैवी वेट लगाने पर रिस्ट बैंड लगा लें।

बेक प्रेस :-

हाथों के बीच कंधों से जरा सा ज्यादा दूरी रख रॉड को पकड़ें और सीधे खड़े होकर एक्सरसाइज करें। । अगर आपको खड़े होकर इसे करने की आदत नहीं है तो हम यह नहीं कहेंगे कि बैठ कर इसे कर लें। नहीं, खड़े होकर इसे करने की आदत डालें। वेट नीचे की ओर आते हुए सांस खीचें और ऊपर की जाते सम्रय सांस छोड़ें। हैवी वेट लगाते समय कलाइयों पर गरम पट्टी या बाजार में बिकने वाला उम्दा किस्म का रिस्ट बैंड बांध लें। दस्ताने वाले रिस्ट बैंड मत पहनना। दस्तानों से रॉड की ग्रिप कमजोर हो जाती है। बारबेल शोल्‍डर प्रेस को सही ढंग से करेंगे तो यह आपको मर्द बना देगी।

आशा करता हूँ की आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी होगी . अगर आपको कोई सवाल या कोई हेल्थ से रिलेटेड कोई प्रॉब्लम है तो आप हमारी साइट या हमारे फेसबुक पेज पर कमेंट करके पूछ सकते है.

Source By : http://www.bodylab.in

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here