कंधे के चारों हिस्से और उनकी कसरतें जानें

3113
0
SHARE

कंधे के चार हिस्से होते हैं, उन्हें और उनकी कसरतें जानें ताकि आप अच्छे शोल्डर बना पाएं। अच्छे कंधों का मतलब हम सब जानते ही हैं। ये हमें चौड़ा और तगड़ा लुक देते हैं। चेस्ट अच्छी हो मगर कंधे कम हों तो कपड़ों की शेप बहुत बुरी आती है वहीं चेस्ट भले कम हो मगर कंधे अच्छे हों तो कपड़ों की फिटिंग बढ़िया आती है। कंधे ही बॉडी को वी शेप देने में मदद करते हैं।

हम shoulder exercises तो करते ही हैं बस उसके बारे में थोड़ा पढ् लेंगे तो हमें अपनी कमजोरी और उसे ठीक करने का रास्ता समझ में आ जाएगा। कंधों के कुल पांच हिस्से होते हैं और अलग अलग कसरतें उन हिस्सों को हिट करती हैं। हर कसरत हर पार्ट के मसल्स पर काम नहीं करती। इसलिए ये जरूरी हो जाता है कि आपको हर हिस्से की सही जानकारी हो।

अगर आपको ये पता होगा कि किस जगह के मसल्स किस कसरत से बनेंगे तो आपके लिए चीजें ओर आसान हो जाएंगी। ये भी हो सकता है कि आप लंबे समय से कोई गलती करते आ रहे हों, जो यह लेख पढ़ने के बाद सुधर सकती है।

डॉक्टरी मकसद से देखेंगे तो पता नहीं कंधे के कितने हिस्से होते हैं। मगर कसरत के मकसद से देखेंगे तो कंधे के कुल चार हिस्से होते हैं। इन चार क्षेत्रों को व्यापक रूप से दो में विभाजित किया गया है।

1 Deltoids –

आपके कंधे का पूरा गोला, सामने से लेकर पीछे तक इसमें शामिल होता है। इसके तीन हिस्से होते हैं।
पहला – ANTERIOR (FRONT) DELT,
दूसरा – MEDIAL (SIDE) DELTS और
तीसरा – POSTERIOR (REAR) DELTS। सामने का हिस्सा, ऊपर का हिस्सा और पीछे का हिस्सा। तस्वीर देखें आप आसानी से समझ पाएंगे।

2 Trapezius –

गर्दन सहित पीठ के ऊपरी हिस्से को TRAPEZIUS कहा जाता है। इस क्षेत्र में rhomboids हैं, लेकिन आपको इसके बारे में बहुत अधिक चिंता करने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि केवल ट्रेपेज़ियस के अभ्यास इसे बनाते हैं।

तो कुल मिलाकर आपको इस बात की जानकारी होगी कि आपके कंधे में क्या समस्याएं हो रही हैं। अब हम आपको बताएंगे कि कौन सा वर्कआउट कंधे के किस हिस्से की मांसपेशियों को बनाता है। लेखकों के नाम जानबूझकर अंग्रेजी में दिए गए हैं इससे उन्हें Google पर खोज करने में आसानी होगी। एक बार जब आप यह जान लेते हैं, तो अपने कंधों को देखें और देखें कि आपका सप्ताहांत बिंदु कहाँ है। यह भी जांचें कि क्या आपके द्वारा किए जाने वाले कंधे के अभ्यास के दौरान ये चार भाग शामिल हैं। यदि आप अपनी टी-शर्ट को पीछे से बॉडी बिल्डर का रूप देना चाहते हैं, तो ट्रेपेज़ियस व्यायाम किया जाना चाहिए। जब वह क्षेत्र बनता है, तो जब भी आप एक हल्के शर्ट पर डालते हैं, तो गर्दन के नीचे का क्षेत्र अलग-अलग दिखाई देगा।

>श्रग करें और ट्रेपेज़ियस और रोडोमिड्स के लिए एक ईमानदार अनुक्रम करें।
MEDIAL अथवा SIDE) DELTS के मसल्स बनाने के लिए Lateral raise, wide-grip upright row, overhead press करें।

>पेंटोवर लेटरल एलिवेशन, कमजोर रियर लेटरल एलिवेशन, रिवर्स इंजन फ्लाई, केबल फेस-पुल, ओवरहेड प्रेस को POSTERIOR या REAR DELTS मुद्दे बनाने के लिए।

> अभ्यास, ईमानदार अनुक्रम, ओवरहेड प्रेस बनाने से पहले ANTERIOR या सामने DELTS जैसे अभ्यास करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here