महंगे प्रोटीन पाउडर की बजाय घर में बने प्रोटीन से बढ़ायें वजन

582
0
SHARE

QUICK VIEW

1. वजन बढ़ाने के लिए सैमन मीटबाल बेहतरीन विकल्प है।
2. सैमन मीटबाल में प्रोटीन होता है।
3. सैमन मीटबाल तमाम गंभीर बीमारियों से लड़ता है।
4. सैमन मीटबाल बच्चों के विकास स्तर को बेहतर करता है।

जिस तरह मोटापा एक बीमारी है, ठीक इसी तरह पतलापन भी एक बीमारी है। पतले होने के लिए तो तमाम एक्सरसाइज से लेकर तमाम आहार शामिल है। लेकिन मोटा होने भी एक चुनौती है, जिस ओर सामान्यतः हमारा ध्यान नहीं जाता। आपको बतात चलें कि यदि आप मोटा होने की चाह रखते हैं तो सैमन मीटबाल बेहतरीन विकल्प है। लेकिन यह जहन में रखें कि सैमन मीटबाल से आप हेल्दी होते हैं बल्की यानी स्थूल नहीं होते। सैमन मीटबाल के असंख्य लाभों के बारे में आइये जानते हैं।

प्रोटीन

दालों का सेवन कर आप प्रोटीन का सेवन करते हैं। यह कहने की जरूरत नहीं है कि मोटापा हासिल करने के लए प्रोटीन कितना आवश्यक तत्व है। अच्छी बात यह है कि जो लोग ओस्टियोअर्थराइटिस के मरीज हैं, उनके लिए यह बेहतरीन विकल्प है। दरअसल इसमें बायोएक्टिव पेप्टाइड्स नामक प्रोटीन पाया जाता है। यह ओस्टियोअर्थराइटिस को नियंत्रित रखने में मदद करता है। यह नहीं इससे हड्डियों की डेंसिटी बेहतर होती है और बढ़ती है जो कि हेल्दी होने की निशानी है। मतलब यह कि सैमन मीटबाल के सेवन से प्रोटीन का सेवन करें तो अपने पतले जिस्म को मोटा बनाएं।

तनाव कम करना

मस्तिष्क का 60 फीसदी भाग वसा से भरा होता है। इसमें भी ओमेगा 3 फैटी एसिड, डीएचए। यह मस्तिष्क के लिए बेहद जरूरी तत्व है। इससे तंत्रिका तंत्र भी प्रभावित होता है। यही नहीं नियमित सैमन मीटबाल के सेवन से हम तनाव को कम कर सकते हैं। तनाव कम करने का मतलब है कि अपनी सेहत को ध्यान देना। हमेशा सकारात्मक बने रहना, खुश रहना। यह कहने की आवश्यकता नहीं है कि जो लोग खुश होते हैं, नकारात्मकता से दूर होते हैं। तनाव ऐसे लोगों के आसपास भी नहीं होता। अतः हेल्दी शरीर का मालिक बनने के लिए सैमन का सेवन अच्छा है।

कार्डियोवस्कुलर समस्या

जो लोग पतले हैं, उन्हें कई किस्म की बीमारियां अपनी जद में ले लेती है। इसमें से एक कार्डियोवस्कुलर की समस्या है। अगर आप पतले हैं तो आपको यह बीमारी होने की आशंका बनी रहेगी। इस बीमारी से छुटकारा पाना है या फिर इसके जद से दूर रहना है तो सैमन मीटबाल अवश्य खाएं। लेकिन यह जहन में रखें कि इसे रोजाना खाने से बचें। ऐसा न कर बैठें कि सैमन मीटबाल को अपनी जिंदगी का अहम हिस्सा बना लें। इससे इसके नुकसान भी देखने को मिल सकते हैं। बहरहाल कार्डियोवस्कुलर की समस्या से लड़ने के लिए सैमन का सेवन अवश्य करें और स्वस्थ जिंदगी हासिल करें। प्रत्येक सप्ताह में दो बार खा सकते हैं। इससे हृदय सम्बंधी बीमारियां भी दूर होती हैं।

सजग बनाए
अगर आप सैमन मीटबाल को सेवन नियमित करते हैं तो इससे आप सजग बनते हैं। सजगत अच्छी सेहत का जरिया है। सैमन मीटबाल खाने से हमारा मस्तिष्क सचेत रहता। नतीजतन हम ऐसी चीजें खाने से बचते हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए खराब है। उन्हीं आहार विशेष का चयन करते हैं जो हमारा हेल्दी कहलाते हैं।

गर्भवती महिला के लिए लाभकर

गर्भवती महिलाओं यदि गर्भावस्था में नियमित सैमन मीटबाल का सेवन करती हैं तो इससे उसके गर्भ में पल रहे शिशु को भी लाभ पहुंचता है। असल में सैमन मीटबाल्स में प्रोटीन और जरूरी फाइबर होता है। इससे गर्भ में पल रहे शिशु को हर आवश्यक चीज मिल जाती है। यही कारण है कि गर्भवती महिलाओं को सैमन मीटबाल का अवश्य सेवन करना चाहिए। इससे शिशु की ग्रोथ बेहतर होती है। साथ ही तमाम किस्म की बीमारियां भी दूर रहती हैं। यदि कोई महिला गर्भावस्था के दौरान पतली है तो उन्हें चाहिए कि वे सैमन मीटबाल्स को अपने आहार में शामिल करें। इससे उनका वजन बढ़ने में मदद मिलती है।

मस्तिष्क का विकास

सैमन मीटबाल्स न सिर्फ वजन बढ़ाने में मदद करता है बल्कि मस्तिष्क का सही विकास भी करता है। यही कारण है कि इसे बच्चों के लिए बेहतरीन विकल्प बताया गया है। जो लोग अपने बच्चों के विकास के लिए चिंतित है, उन्हें चाहिए कि वे सैमन मीटबाल्स को अपनी जिंदगी का हिस्सा बनाए और बच्चों का सही विकास करें।

विटामिन डी

हेल्दी शरीर को मेनटेन रखना है तो शरीर में पर्याप्त विटामिन डी होता है। कई लोग विटामिन की लिए सप्लीमेंट भी लेते हैं। लेकिन सैमन मीटबाल में यह प्राकृतिक रूप से मौजूद है। अतः यदि आपमें विटामिन डी की कमी हो रही है तो सैमन मीटबाल का सेवन करें। आपको यह भी बताते चलें कि विटामिन डी का संपर्क कैंसर, कार्डिवस्कुलर डिजीज, अर्थराइटिस आदि बीमारियों से भी है। सैमन मीटबाल इन सबसे लड़ने में सहायक है।

हरी सब्जियों से बेहतर

कुछ लोग हेल्दी रहने के लिए हरी सब्ज्यिं का सेवन करते हैं। यह बुरी बात नहीं है। लेकिन अकेले सैमन मीटबाल में इतनी ताकत होती है कि यह तमाम हरी सब्जियों को मात देता है। जो लोग वजन बढ़ाने की चाह रखते हैं, उन्हें इसका सेवन अवश्य करना चाहिए। इससे उन्हें प्रोटीन, बी विटामिन, ओमेगा 3 फैटी एसिड और विटामिन सी जैसे तत्व हासिल होंगे।

Source By : http://www.onlymyhealth.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here